Rhea Chakraborty Arrest News: सुशांत केस की मुख्य संदिग्ध रिया से पहले भी 8 आरोपी हुए हैं गिरफ्तार

admin

मुंबई, ऑनलाइन डेस्क। सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग्स रैकेट की जांच में जुटी नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी के बाद उन्हें मेडिकल टेस्ट के लिए ले जाया जा रहा है। इसके बाद जांच एजेंसी उन्हें आज या बुधवार को कोर्ट में पेश करेगी। कोर्ट में पेशी के दौरान एजेंसी ड्रग्स रैकेट की जांच को आगे बढ़ाने के लिए रिया की रिमांड की अपील कर सकती है। इस केस में एनसीबी अब तक रिया समेत कुल नौ लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। ड्रग्स रैकेट से जुड़े आठ लोग पहले ही सलाखों के पीछे पहुंच चुके हैं। इसके अलावा तीन और लोग एजेंसी के निशाने पर हैं।

ये आठ लोग हुए हैं अब तक गिरफ्तार

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने रिया चक्रवर्ती को आज (8 सितंबर 2020) को पूछताछ के लिए बुलाया गया था। इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। रिया चक्रवर्ती से पहले एनसीबी इस केस में आठ लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। इनमें रिया का भाई शौविक चक्रवर्ती, सुशांत का पूर्व हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा, सुशांत का हाउस कीपर दीपेश सावंत, जैद विलात्रा, अब्दुल बासित परिहार, कैजान इब्राहिम, अब्बास लखानी और करण अरोड़ा के नाम शामिल हैं। इसके अलावा रिया के ड्रग्स चैट में जया साहा, श्रुति मोदी और गोवा के होटल व्यवसायी गौरव आर्या का भी नाम शामिल है। एनसीबी इनके खिलाफ भी सुबूत जुटा रही है।

Sushant Singh Rajput Case : रिया चक्रवर्ती ने सुशांत की बहन और डॉक्टर तरुण कुमार पर दर्ज कराया धोखाधड़ी का केस

ड्रग्स मामले में अब तक गिरफ्तार आरोपी

अब्बास लखानी व करण अरोड़ा – एनसीबी ने इन दोनों को सबसे पहले गिरफ्तार किया था। इन्हीं से पूछताछ के आधार पर एजेंसी ड्रग्स सप्लायर जैद विलात्रा तक पहुंची थी।

जैद विलात्रा – ये भी सुशांत केस में सामने आए ड्रग्स रैकेट का हिस्सा है। इसे एनसीबी ने 2 सितंबर को गिरफ्तार किया था। जैद के पास से नौ लाख रुपये से ज्यादा की नकदी और विदेशी मुद्रा मिली थी। इसे भी रिया की ड्रग्स गैंग का डीलर बताया जा रहा है। इसी से पूछताछ में अब्दुल बासित परिहार के नाम का खुलासा हुआ था।

अब्‍दुल बासित परिहार – सुशांत केस से जुड़े ड्रग्स रैकेट में शामिल है। 3 सितंबर को एनसीबी ने इसे गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। इसे इस रैकेट का ड्रग्स डील बताया जा रहा है। बासित ने ही रिया के भाई शौविक को ड्रग्स सप्लायर जैद का नंबर दिया था। बासित और शौविक की मुलाकात फुटबॉल ग्राउंड में हुई थी।

कैजान इब्राहिम – शौविक की ड्रग्स गैंग की छानबीन करते हुए एजेंसी कैजान इब्राहिम तक पहुंची। कैजान भी उसी फुटबॉल ग्राउंड पर प्रैक्टिस के लिए आता था, जहां बासित और शौविक की मुलाकात हुई थी। यहीं से वह भी इस ड्रग्स गैंग का हिस्सा बन गया।

दीपेश सावंत – एनसीबी ने शनिवार देर शाम, 5 सिंतबर को दीपेश सावंत को पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया था। दीपेश, सुशांत का हाउस कीपर है, जो उस वक्त अभिनेता के घर में ही मौजूद था, जब उसका शव बरामद हुआ। दीपेश ने इस केस में ड्रग्स कारोबार से जुड़े कई अहम खुलासे किए हैं। इसलिए माना जा रहा है कि एनसीबी उसे इस केस में सरकारी गवाह बनाकर कोर्ट में पेश कर सकती है।

शौविक चक्रवर्ती – अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती का भाई, जो अपनी बहन और के ड्रग्स चैट वाले ग्रुप में शामिल है। जांच में पता चला है कि रिया उसी के जरिये ड्रग्स मंगाती थी। एनसीबी ने उसे 6 सितंबर को गिरफ्तार किया था।

सैमुअल मिरांडा – मिरांडा, सुशांत का पूर्व हाउस कीपिंग मैनेजर है। रिया ने ही मई 2019 में उसे सुशांत का हाउस कीपिंग मैनेजर नियुक्त किया था। सैमुअल को भी 6 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था।

तीन से लगातार रिया से हो रही थी पूछताछ

रिया की गिरफ्तारी की अटकलें तीन से लगाई जा रहीं थीं। मंगलवार को रिया से लगातार पूछताछ का तीसरा दिन था। इससे पहले एनसीबी इस केस में एक दर्जन से ज्यादा लोगों से पूछताछ कर चुकी है। इससे पहले रिया के भाई शौविक चक्रवर्ती और सुशांत के हाउस कीपिंग मैनेजर सैमुअल मिरांडा को भी इसी तरह एनसीबी ने गिरफ्तार किया था। इन लोगों को भी पूछताछ के लिए बुलाया गया था। पूछताछ के तुरंत बाद ही एजेंसी ने इन्हें हिरासत में ले लिया था।

14 जून को मिला था सुशांत का शव

मालूम हो कि फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की 14 जून को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। उनका शव  मुंबई के बांद्रा स्थिति उनके फ्लैट में बरामद हुआ था। उस वक्त फ्लैट में सुशांत के दोस्त व क्रिएटिव मैनेजर सिद्धार्थ पिठानी, सुशांत का हाउस कीपर दीपेश सावंत और उनके कुक नीरज सिंह व केशव मौजूद थे।

रिया समेत पांच के खिलाफ दर्ज है FIR

सुशांत की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत मामले में उनके पिता केके सिंह ने 25 जुलाई को पटना में पांच लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इस एफआईआर में रिया चक्रवर्ती और सैमुअल मिरांडा भी आरोपी थी। सुशांत के पिता ने इन लोगों पर सुशांत को आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया था। इसके बाद बिहार पुलिस ने मामले में जांच शुरू की थी। उधर मुंबई पुलिस पहले ही इस केस में बिना कोई रिपोर्ट दर्ज किये जांच करने का दावा कर रही थी। दोनों राज्यों की पुलिस में जांच को लेकर चल रही खींचतान को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने 19 अगस्त को सुशांत केस में सीबीआई को जांच करने की मंजूरी दी थी।

ऐसे सुशांत केस में हुई ईडी और एनसीबी की एंट्री

इस केस में सुशांत के परिवार ने रिया चक्रवर्ती पर अभिनेता के 15 करोड़ रुपये की हेराफेरी करने का भी आरोप लगाया था। लिहाजा, सीबीआई के अलावा प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) भी सुशांत केस में पैसों की लेनदेन की जांच कर रहा है। प्रवर्तन निदेशालय को ही केस की जांच के दौरान रिया चक्रवर्ती, उसके भाई शौविक और सैमुअल मिरांडा आदि के वाट्सऐप ग्रुप चैट में ड्रग्स रैकेट का पता चला था। ड्रग्स कारोबार का पता चलने पर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने मामले में रिया समेत चार लोगों, सुशांत के घर के मैनेजर सैमुअल मिरांडा, रिया की टैलेंट मैनेजर जया साहा और एक अन्य शख्स गौरव आर्या के खिलाफ 27 अगस्त को केस दर्ज किया था। इन लोगों के व्हाट्सऐप चैट की जांच में ड्रग्स कारोबार का पता चला था। एनसीबी इन सभी से पूछताछ कर चुकी है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

error: Content is protected !!
admin
लोकल खबरें