समन्वय से हो धान खरीदी, किसानों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं होनी चाहिए- श्री सुब्रत साहू

Buero Report

समन्वय से हो धान खरीदी, किसानों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं होनी चाहिए- श्री सुब्रत साहू
अपर मुख्य सचिव द्वारा धान एवं मक्का खरीदी की तैयारियों की समीक्षा

बिलासपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के मंशानुरूप जिला प्रशासन, पुलिस एवं संबंधित विभागों के समन्वय से समर्थन मूल्य पर धान एवं मक्का खरीदी का कार्य दक्षता पूर्वक संपादित किया जाये। किसानों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं होनी चाहिए। यह निर्देश अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू ने आज धान खरीदी की तैयारियों की समीक्षा करते हुए दिया।
वीडियों काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित बैठक में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के सचिव डाॅ. कमलप्रीत सिंह, मार्कफेड के एमडी श्री अंकित आनंद ने भी आवश्यक दिशा निर्देश दिए। बैठक में गिरदावरी और किसान पंजीयन की समीक्षा की गई। गत वर्ष के मुकाबले प्रदेश में 2.5 लाख और जिले में 9 हजार से अधिक नये किसानों का पंजीयन हुआ है। जिले में धान के रकबे में भी 0.54 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी भी हुई है। अपर मुख्य सचिव ने कहा कि जिन जिलों में आवश्यकता से अधिक रकबा बढ़ा है वहां कलेक्टर सख्ती से देखें और खरीदी प्रारंभ होने के पूर्व इसका निराकरण करें।
धान की सामान्य से ज्यादा आवक पर निगरानी और माॅनिटरिंग करने पुलिस विभाग को निर्देश दिए गए। श्री साहू ने कहा कि राज्य से बाहर जाने वाले धान की नहीं बल्कि बाहर से आने वाले धान की सख्ती से जांच की जाये। खरीदी केन्द्रों में कम्प्यूटर, कांटा बाट, फड की व्यवस्था विशेषकर नये खरीदी केन्द्रों में इनकी तैयारियों पर विशेष ध्यान देने कहा।
उपार्जित ध्यान को सुरक्षित रखने के लिए खरीदी केन्द्रों में चबूतरा निर्माण की समीक्षा की गई। कलेक्टर डाॅ. सारांश मित्तर ने बताया कि जिले में 456 चबूतरा खरीदी केन्द्रों में उपलब्ध है। बारदाना व्यवस्था के लिए राशन दुकानों से शत् प्रतिशत बारदाना एकत्रित करने का निर्देश दिया गया। इसकी शार्टेज को दूर करने के लिए गंभीरता से कार्य करने एवं मिलर्स से प्राप्त बारदानों का सत्यापन प्राथमिकता से करने कहा गया।
धान खरीदी हेतु टोकन व्यवस्था की जानकारी दी गई। इस व्यवस्था पर विशेष ध्यान देने कहा गया और समिति की क्षमता के अनुरूप व्यवस्थित खरीदी सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये। बैठक में वर्ष 2019-20 के शेष धान के निराकरण में गति लाते हुए प्राथमिकता से करने का निर्देश दिया गया।
बैठक में आईजी बिलासपुर श्री दीपांशु काबरा, कलेक्टर डाॅ. सारांश मित्तर, पुलिस अधीक्षक श्री प्रशांत अग्रवाल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री गजेन्द्र ठाकुर एवं अन्य संबंधित अधिकारी भी वीडियों काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शामिल हुए।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

error: Content is protected !!
Buero Report
लोकल खबरें