कृष्ण कुमार ध्रुव हुए नेशनल मदर्स ब्लेस अवार्ड से सम्मानित

Buero Report

कृष्ण कुमार ध्रुव हुए नेशनल मदर्स ब्लेस अवार्ड से सम्मानित

मुंगेली/जरहागॉव-  शांति फाउंडेशन गोंडा,उत्तरप्रदेश (कार्य क्षेत्र सम्पूर्ण भारत) व स्वदेश सेवा संस्थान भारत के द्वारा हर वर्ष देश के सभी राज्यों के कलाकारों की प्रतिभा को आगे बढ़ाने प्रतियोगिता का आयोजन कर बेहतर मंच प्रदान किया जाता है, इस प्रतियोगिता में विभिन्न राज्यों के कलाकार जो साहित्य, कविता, चित्रकारी आदि में रुचि रखते हैं ऐसे व्यक्तियों को प्रोत्साहित करने शांति फाउंडेशन गोंडा के द्वारा प्रत्येक वर्ष नेशनल मदर्स डे के अवसर पर मदर्स ब्लेस सम्मान समारोह का आयोजन किया जाता रहा है, इस कार्यक्रम में भारत देश के सभी राज्यों के 350 श्रेष्ठतम कलाकारों,साहित्यकारों, कवियों ने ऑनलाइन प्रतियोगिता में शामिल होकर अपने अंदर की कलाओं को जूरी टीम के समक्ष एवं व्हाट्सएप के माध्यम से रखा, सभी कलाकारों के द्वारा प्रस्तुत कलाओं का अवलोकन जूरी टीम के द्वारा किया गया,जिसके आधार पर 350 श्रेष्ठ कलाकारों को सम्मानित करने के लिए चयनित किया गया। इस वर्ष मदर्स डे का थीम था मेरी प्यारी माँ इसी पर सभी प्रतिभागियों ने अपने अपने विचारों को कविता, पोस्टर, लेख प्रस्तुत किये। एस0 बी0 सागर निदेशक स्वदेश संस्थान, पिंकी देवी अध्यक्ष शांति फाउंडेशन ने बताया कि समाज में छुपी हुई प्रतिभाओं को तराशना एवं सम्मान देना है। कार्यक्रम संयोजिका सुचिता साहू ने बताया कि कोरोना के कारण बेहतर प्रस्तुतिकरण कर उत्कृष्ट स्थान प्राप्त करने वाले सभी प्रतिभागियों को ऑनलाइन ई- सर्टिफिकेट प्रदान किया गया। कार्यक्रम प्रभारी सुनील कुमार आनंद ने बताया की माँ के कदमों तले जन्नत है, उसकी सेवा से बढक़र कोई सेवा नहीं है। इस संस्था के सचिव गया प्रसाद ने बताया कि सभी की कलाकृति व रचना बहुत मार्मिक व संदेश भरी रही। कोरोना काल के समय में भी कलाकार और रचनाकार अपनी कलम बंद नहीं रखता उनके विचार निकल ही आते है।
इस ऑनलाइन प्रतियोगिता में मुंगेली जिला के ग्राम पचोटिया (जरहागॉव) में रहने वाले कृष्ण कुमार ध्रुव ने मदर्स डे स्पेशल थीम मेरी प्यारी माँ पर लिखी गई रचना को प्रस्तुत किया। जिसको निर्णायक मंडलों की टीम ने चयन कर नेशनल मदर्स ब्लेस अवार्ड से सम्मानित किया।
बता दें कि कृष्ण कुमार ध्रुव समाज सहयोग के साथ युवाओं के मार्गदर्शक और प्रेरणास्रोत है, इनके इस नेशनल स्तरीय प्रतियोगिता में उत्कृष्ट स्थान प्राप्त कर अवार्ड मिलने पर ग्राम पचोटिया,परिवारवालों और शुभचिंतकों में खुशी है एवं ऐसे ही निरंतर आगे बढ़ने बधाई दे रहे हैं।
अवार्डी कृष्ण कुमार ध्रुव ने कहा जीवन की सफलता में माँ का स्थान सर्वश्रेष्ट और उनके चरणों में स्वर्ग जैसे सुख की प्राप्ति होती है, हमारे अंदर अपार क्षमताएं और ऊर्जा विद्यमान होती है बस हमें इसे समय रहते पहचानने की जरूरत है, हमें हर क्षेत्रों के गतिविधियों में शामिल होकर अपने अंदर समृद्धता बढ़ानी चाहिए,मेरी सदैव कोशिश रहती है कि मैं समाज और युवाओं को प्राथमिकता देते हुए सदैव सहयोग करूँ।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

error: Content is protected !!
Buero Report
लोकल खबरें