नेहरू जैसा त्याग और बलिदान देश में किसी दूसरे पुरुष ने नहीं किया-रजनीश हरबंश सिंह

Buero Report

नेहरू जैसा त्याग और बलिदान देश में किसी दूसरे पुरुष ने नहीं किया-रजनीश हरबंश सिंह

पं जवाहर लाल नेहरू जी की 57 वी पुण्यतिथि सादगी पूर्वक मनाई गई 

26 जनवरी 1930 को तिरंगा फहराकर पूर्ण स्वराज की घोषणा नेहरू ने की थी – राष्ट्रीय सचिव बाजपेयी

 

राज गोस्वामी- 
भोपाल । मुख्यालय । भारत के प्रथम प्रधान मंत्री भारत रत्न,विश्व शांति के धरोहर जन सेवक पं. जवाहर लाल नेहरू जी की 57 वी पुण्य तिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुये मध्य प्रदेश कांग्रेस सेवादल के मुख्य संगठक पूर्व विधायक रजनीश हरबंश सिंह ने कहा कि देश में नेहरू जैसा त्याग और बलिदान देश में किसी दूसरे पुरुष ने नहीं किया । नेहरू जी को स्वाभाविक रूप से जीवन के सभी सुख और राजकीय एवं सामाजिक आदर प्राप्त कर सकते थे लेकिन उन्होंने राष्ट्र सेवा का कष्ट दायक रास्ता अपनाया । कांग्रेस के नेताओ में सबसे अधिक समय 10 वर्षों तक जेलो में काट देश के आज़ादी की लड़ाई लड़ी ।


उन्होंने कहा कि देश को पूर्ण स्वराज का विचार कांग्रेस के सामने सबसे पहिले 1928-29 में पंडित जी ने रखा था जिसे नेताजी सुभाष चन्द्र बोस के ज़ोरदार समर्थ मिलने पर कांग्रेस ने प्रस्ताव पारित किया 26 जनवरी 1930 को देश भर में तिरंगा फहराकर पूर्ण स्वराज की घोषणा करने का निर्णय लिया ।
सेवादल के प्रभारी सचिव पूर्व विधायक चन्द्र प्रकाश बाजपेयी ने उनकी 57 वी पुण्यतिथि पर नेहरू चौक स्थित प्रतिमा में माल्यार्पण कर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हुये कहा कि गाँधी जयंती 1951 को पंडित जी ने कहा था कि यदि कोई व्यक्ति धर्म के आधार पर दूसरे व्यक्ति पर हमला करता है तो मै आख़री साँस तक उसके ख़िलाफ़ लड़ूँगा राष्ट्रप्रधान होने की हैसियत से और एक सच्चे भारतीय होने के नाते ।


बाजपेयी ने कहा पंचशील सिद्धांत के महान चिन्तक और वैश्विक सोच वाले दुनिया के विकास शील निर्गुट देशों का नेतृत्व करने वाले पंडित नेहरू जैसा नेता दूसरा हो नहीं सकता । भारत जैसे पिछड़े गरीब राष्ट्र को संकट से उबार कल कारख़ाने,सिंचाई,बांध,शिक्षा क्रांति,चिकित्सा,विज्ञान जगत को गति दी ।
उनके दुखद निधन पर देश के सांसद में अपनी भावअंजली अर्पित करते अटल बिहारी बाजपेयी ने कहा था “एक स्वप्न अधूरा रह गया,एक गीत शांत हो गया,और एक ज्योति न जाने कहाँ खो गई । स्वप्न था कि दुनिया भय और भूख से मुक्त हो,गीत था एक महाकाव्य,जो गीता के भावों से गुंजायमान था और गुलाब की सुगंध से सुवासित,ज्योति थी ऐसी मशाल,जो रात भर जला करती थी,हमें रास्ता दिखाती थी …. वो विरोधियों और दुश्मन को भी मैत्री के बन्धन में बांधने की क्षमता रखते थे उन्हें शत शत नमन
ज्ञात हो कि सेवादल राष्ट्रीय अध्यक्ष लालजी देसाई जी के मार्ग दर्शन व प्रदेश प्रभारी सचिव चन्द्र प्रकाश बाजपेयी के कुशल संचालन में जन सेवा सप्ताह के अंतर्गत 21 मई राजीव गांधी पुण्यतिथि से 27 मई पंडित नेहरू पुण्यतिथि तक मध्य प्रदेश सेवादल प्रदेश मुख्य संगठक पूर्व विधायक रजनीश हरबंश सिंह,कार्यका. मुख्य संगठक द्वय दिनेश पांडेय,हरि शंकर राय,प्रदेश महिला अध्यक्ष राजकुमारी रघुवंशी,यंग ब्रिगेड अध्यक्ष धर्मेन्द्र भदौरिया,प्रदेश उपाध्यक्ष द्वय ब्रजकिशोर शर्मा,अरुण रोचवानी, प्रदेश के ज़ोन संभाग,जिले के प्रभारी एवं जिले के सेवादल अध्यक्ष,महिला अध्यक्ष,यंग ब्रिगेड अध्यक्ष ब्लाक पदाधिकारी जन सेवा सप्ताह 27 मई प्रथम प्रधान मंत्री स्व जवाहर लाल नेहरू पुण्य तिथि तक अपने सामर्थता अनुसार जन सेवा कार्य कर कोविड पीड़ित गरीब जनो की सेवा की है । श्री लालजी देसाई सेवादल राष्ट्रीय अध्यक्ष जी के निर्देशानुसर वैक्सीन सेवा टीकाकरण शिविर प्रदेश में लगवाये जायेंगे ।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

error: Content is protected !!
Buero Report
लोकल खबरें