संगठन को मजबुत करने संदस्यता अभियान जारी , गीतेश्वरी बघेल व विजय देशलहरे पहुंचे कबीरधाम

Buero Report

संगठन को मजबुत करने संदस्यता अभियान जारी , गीतेश्वरी बघेल व विजय देशलहरे पहुंचे कबीरधाम

कबीरधाम – राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं आरटीआई जागरूकता संगठन भारत के अभियान स्वरुप में संगठन को मजबूत करने के लिए नवीन सदस्य की टीम गठन करने बैठ रखी गई ।
राष्ट्रीय अध्यक्ष व संरक्षक सांगेश कुमार भांठ जी,
विजय देशलहरे को युवा प्रकोष्ठ प्रदेश अध्यक्ष, गीतेश्वरी बघेल महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष , ओमबाई जिला अध्यक्ष दुर्ग,केशव चंद्राकर जी के कुशल नेतृत्व व मार्गदर्शन पर छत्तीसगढ़ के कबीर धाम जिले में बैठक रख कर नवीन उपस्थित लोगों जिसमे भगवती मिरज,रीना भट्ट,स्वाती रात्रे, उषा कोसरिया,लक्ष्मि तिजिया,देवचरन जोशी, एक दुसरे से परिचय होने के बाद उपस्थित लोगों को संगठन के उद्देश्यों की जानकारी देते हुए संगठन के माध्यम से हम सब मिलकर हमारे आस पास के हो रहे गरीब मजदूर, महिलाओ व बच्चों के अत्याचार, उत्पीड़न ,के विरुद्ध एक आवाज बनकर न्याय दिलाने की बात बतलाई वहीं बैठक कवर्धा जिले के पंडरिया रोड कृषि उपज मंडी के ठिक सामने सतनाम भवन में सदस्यता अभियान का बैठक कार्य कर रखा गया जिसमें सैकड़ों की संख्या महिला पुरुष उपस्थित थे और उपस्थित महिलाओं ने अपने पीड़ा एवं ठगी होने की शिकायत की जानकारी दी जिसमें एक सीएससी सेंटर खोलने व किसान क्रेडिट कार्ड बनाने के नाम पर ठगी करने वाले अजय जैन नामक रायपुर निवासी व्यक्ति डिजिटल सेवा कांटेक्ट सीएचसी गवर्नमेंट सर्विस इंडियन लिमिटेड के नाम पर किसान क्रेडिट कार्ड बना देने का ठगी करवाने का जिम्मा दिलीप साहू को दिया गया था ।

उक्त व्यक्ति के द्वारा पीड़ित महिलाओं को अपना ठगी का शिकार बनाने बरदूली निवासी दिलीप साहू के द्वारा किसान क्रेडिट कार्ड बनाना है और सरकारी काम है कह सदस्यता में हमेशा मिल किया और एजेंट के स्वरुप में एक id कार्ड थमा दिया जिसमें हम महिलाओं को प्रति एक कार्ड में 15 रूपये मिलेगा कह के लाभ दिलाने का झांसा देकर हमें सदस्य बनाया जिसके नाम पर हमसे व हमारे दो और महिलाओं से 1500,रूपये सदस्यता शुल्क लिया । जिसमें काम के रूप में किसानों से मिलकर किसान क्रेडिट कार्ड बनाना है उसने एक किसान कार्ड बनाने पर 15 रूपये का इनकम होने की बात बताई थी। लगातार तीन दिन काम करने के बाद कवर्धा जिले के आसपास से लगभग 400 किसानों से हम लोगों के द्वारा कार्ड भरा गया था। पैसा और फार्म दोनों कलेक्ट कर जमा कर दिया गया था।फार्म लेने के बाद ना तो किसानों का कार्ड बन पाया और ना ही किसी प्रकार से लाभ मिला जिनका शिकायत करने पर थाना पिपरिया पहुंचे वहां पर थाना प्रभारी से चर्चा करने उपरांत पर बताया कि यहां के जिला स्तर के जो हैं उनको लेकर थाना पहुंचे की बात कही फिर आगे कार्रवाई करेंगे कहा तो हम लोग दिलीप साहू के घर पहुंचे । उनको बतलाया की हमारे घर में किसान लाभ की जानकारी लेने पहुंच रहे हैं क्या करना है बतलाइए नहीं तो हम लोग आपके नाम से पिपरिया थाना में रिपोर्ट दर्ज कराएंगे कहा तो हम लोगों का पैसा वापस लौटा दिया और जब किसानों के किसान कार्ड बनाने की बात किए तो चुप्पी साध लिए तथा आश्वासन दिया की कुछ दिन मुझे समय दिजिए भी मैं रास्ता निकालकर आप लोगों से मिलता हूं कहने के बाद हम उनके घर से वापस आ गऐ थे कुछ दिन बाद फोन करने पर फोन अब हमेशा बंद बता रहे हैं किंतु अब किसान हमारे घर आकर डरा धमका रहे हैं जिससे हम सभी काफी भयभीत हैं । वहीं न्याय की गुहार लगाते हुए राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं आरटीआई जागरूकता संगठन भारत के राष्ट्रीय अध्यक्ष के नाम पर शिकायत लिखकर न्याय की मांग की है। जहां संगठन महिलाओं से जुड़ी होने के कारण से मामले में तत्काल उचित कानूनी कार्यवाही कराने की निर्दश दिए । जिसमें महिला प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष व युवा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष को एक टीम बनाकर पुलिस अधीक्षक कवर्धा से मिलकर त्वरित कार्यवाही कराने की मांग रखने की बात कही।

दुर्ग जिला संगठंनप्रभारी श्री केशव चंद्राकर जी को प्रश्स्ति पत्र देकर किया सम्मान

सदस्यता अभियान कार्यक्रम के उपरांत दुर्गजिला प्रभारी केशव चंद्राकर जी को प्रशस्ति पत्र एवं आई कार्ड देकर सम्मानित किया गया तथा चंद्राकर जी की उज्जवल भविष्य कामना की सभी उपस्थित लोगों ने बधाई और धन्यवाद ज्ञापित किया।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

error: Content is protected !!
Buero Report
लोकल खबरें