शराब की वजह से आए दिन लगातार हिंसा व आत्महत्या जैसी घटनाएं हो रही लेकिन भूपेश सरकार सुस्त , भूपेश सरकार तत्काल इस्तीफा दें : रामकुमार गंधर्व

Buero Report

शराब की वजह से आए दिन लगातार हिंसा व आत्महत्या जैसी घटनाएं हो रही लेकिन भूपेश सरकार सुस्त , भूपेश सरकार तत्काल इस्तीफा दें : रामकुमार गंधर्व

मुंगेली । आज पूरे छत्तीसगढ़ में आम आदमी पार्टी ने सभी विधानसभा व जिला में शराबबंदी को लेकर प्रेस कांफ्रेंस की और सरकार के नाम ज्ञापन दिया जिसका जनता ने पुरजोर समर्थन किया है।

आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी ने कहा की भूपेश बघेल ने जनता के साथ वादाखिलाफी की है , पूर्ण शराबबंदी का वादा किया, पर आज छत्तीसगढ़ में अवैध तरीके से धड़ल्ले से शराब बिक रहा है ।


इतना ही नहीं सरकार शराब माफियाओं के साथ मिली हुई है , इसलिए भूपेश बघेल को नैतिकता के आधार पर तुरंत सरकार से इस्तीफा देना चाहिए और छत्तीसगढ़ की जनता खासकर छत्तीसगढ़ की महतारी बहनों से माफी मांगना चाहिए कि उन्होंने माताओं बहनों की जिंदगी को उजड़ने दिया ।
भूपेश बघेल जब विपक्ष में थे, जगह- जगह कांग्रेस पार्टी गंगाजल की शपथ लेकर कहती थी, छत्तीसगढ़ में सरकार बनने पर पूर्ण शराबबंदी करेंगे, लेकिन आज सरकार शराब माफियाओं के साथ मिलकर अवैध शराब का धंधा कर रही है । शराब की होम डिलीवरी कर रही है जिससे छत्तीसगढ़ के सभी परिवारों को आर्थिक स्तर पर , स्वास्थ्य के स्तर पर और परिवारिक संबंधों के स्तर पर बड़ा नुकसान झेलना पड़ रहा है । प्रदेश की जनता खासकर महिलाएं त्रस्त है और भूपेश बघेल की सरकार शराब माफियाओं के साथ मिलकर धड़ल्ले से अवैध शराब की बिक्री पर अपना ध्यान लगा रही है ।

आम आदमी पार्टी की प्रदेश सह संगठन मंत्री दुर्गा झा ने कहा महासमुंद की बेमचा गांव की घटना यह दिखाती है, परिवार का मुखिया जो शराबी था, आये दिन अपनी पत्नी और पांच बेटियों को पीटता था । उससे त्रस्त आ कर उसकी पत्नी और पांचों बेटी ट्रेन से कटकर आत्महत्या कर लेती है । इस घटना ने पूरे प्रदेश की आत्मा को झकझोर दिया है ।

कोमल हुपेंडी ने मीडिया के सवालों के जवाब देते हुए कहा विस्तार से अपनी बात रखी,
मीडिया का सवाल :- दिल्ली में आपने पूर्ण शराबबंदी क्यों नहीं की
जवाब :- दिल्ली देश की राजधानी है । दिल्ली के अंदर दुनिया भर के सरकारों के दूतावास है, उनका अपना कल्चर है । दिल्ली के अंदर आम आदमी पार्टी के पास गवर्नेंस के पूरे पावर भी नहीं है फिर भी दिल्ली के अंदर जिन- जिन मोहल्ला सभा ने कहा- हमारे मोहल्ले में शराब के ठेके नहीं चाहिए, हमने शराब के ठेके बंद करवा दिए । दिल्ली सरकार की नई एक्साइज पॉलिसी के तहत दिल्ली सरकार अब शराब नहीं बेचेगी क्योंकि सरकार का काम शराब बेचने का नहीं होना चाहिए । दिल्ली के अंदर 60 परसेंट शराब की दुकानें सरकार के पास थी जो आगे भविष्य में सरकार निजी हाथों में दे देगी लेकिन दिल्ली में अभी कुल जितने शराब की दुकानें चल रही है, भविष्य में किसी नए शराब की दुकानों को लाइसेंस नहीं दिया जाएगा ।
मीडिया का सवाल:- छत्तीसगढ़ के अंदर पूर्ण शराबबंदी को लेकर आपका स्टैंड है?
जवाब- छत्तीसगढ़ के अंदर 2018 में आम आदमी पार्टी ने अपने घोषणापत्र में पूर्ण शराबबंदी का वादा किया था, आज भी हम उसी स्टैंड पर कायम है , लेकिन भूपेश बघेल जी और कांग्रेस पार्टी 2018 के विधानसभा चुनाव में गंगाजल की कसम खाकर छत्तीसगढ़ के अंदर जगह- जगह शराबबंदी का वादा किया था, लेकिन आज भूपेश बघेल जी जनता के साथ वादाखिलाफी क्यों कर रहे हैं ? सरकार शराब माफियाओं के साथ क्यों मिली हुई है ? क्यों सरकार शराबबंदी करना नहीं चाहती है ? सरकार के तमाम मंत्री, तमाम विधायकों को अवैध शराब की बिक्री से कमीशन मिलता है , छत्तीसगढ़ के अंदर अवैध सरकार की बिक्री धड़ल्ले से चल रहा है । भूपेश सरकार कहती है छत्तीसगढ़ के अंदर शराब की बिक्री से सरकार को राजस्व मिलता है । छत्तीसगढ़ सरकार का कुल बजट एक लाख करोड़ है, जबकि सरकार को शराब बेचने से लगभग 5000 करोड़ का मिलता है जो कुल बजट का 5% है लेकिन अवैध शराब की बिक्री से तमाम विधायक , मंत्रियों का जेब भरता है , इसलिए यह शराबबंदी छत्तीसगढ़ में नहीं करना चाहते हैं , अपने आय के स्रोत को खत्म नहीं करना चाहते हैं, बशर्ते छत्तीसगढ़ की माताए, बहनों की जिंदगी और उनका परिवार शराब के कारण उजड़ जाए, इनसे भूपेश सरकार को कोई मतलब नहीं है ।

आम आदमी पार्टी विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी व जिलाध्यक्ष रामकुमार ने कहा- आम आदमी पार्टी ने आज जिले मुंगेली में शराबबंदी के मुद्दे पर को लेकर सरकार के नाम स्थानीय प्रशासन को ज्ञापन भी दिया ।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

error: Content is protected !!
Buero Report
लोकल खबरें